घर / ई-शासनम् / ई-शासन आनलाईन सेवां / ई-पर्यटक वीजा सुविधा
सांझा करो
Views
  • राज्य Open for Edit

ई-पर्यटक वीजा सुविधा

ई-पर्यटक वीजा सुविधा, पर्यटन मंत्रालय दी वीजा बवस्था गी सरल बनाने दी इक प्रक्रिया ऐ।

ई-पर्यटक वीजा सुविधा

पर्यटन मंत्रालय वीजा बवस्था गी सरल बनाने लेई समें-समें पर गृह मंत्रालय ते विदेश मंत्रालय कन्नै मिलियै कम्म करै करदा ऐ। मंत्रालय ने इलेक्ट्रानिक जात्तरा प्राधिकार (ईटीए) (जिसी ई-पर्यटक वीजा दा नांऽ दित्ता गेआ ऐ) कन्नै समर्थ आगमन पर पर्यटक वीजा दी अमलावारी दे सरबंध च पैह्​ल दा समर्थन कीता ऐ ते ओह् इस कार्यक्रम गी लागू करने लेई गृह मंत्रालय, विदेश मंत्रालय ते नागरिक उड्डयन मंत्रालय गी हर चाल्ली दी मदद देने लेई प्रतिबद्ध ऐ।

ई-पर्यटक वीजा कि’यां कम्म करदा ऐ?

ई-पर्यटक वीजा संभावत मेह्​मानें गी अपने देश थमां भारती वीजा लेई बिना भारती मिशन च जाए बिना आवेदन करने ते वीजा फीस दा आनलाइन भुगतान करने च समर्थ बनांदा ऐ। इक बार मंजूर होने पर आवेदक गी भारत दी जात्तरा करने लेई अधिकृत करने दे सरबंध च ईमेल हासल होंदा ऐ ते ओह् इस इख्तियार दे प्रिंट आउट कन्नै भारत दी जात्तरा करी सकदा ऐ। भारत आगमन पर मेह्​मानें गी ओह् इख्तियार आव्रजन अधिकारियें गी दस्सना होंदा ऐ जेह्​ड़ा देश च दाखले लेई ओह्​दे पर स्टैंप लाई ओड़ङन। होर मती जानकारी लेई इस लिंक पर जाओ:

एह् सुविधा उ’नें विदेशियें गी उपलब्ध ऐ जिंदा भारत च औने दा मूल उद्देश मनोरंजन, सैर-सपाटा करना, निक्की अवधि च डाक्टरी इलाज, अचानक बपार जात्तरा बगैरा करना ऐ ते एह् सुविधा होर उद्देशें/गतिविधियें लेई मान्य नेईं ऐ। इस कन्नै मेह्​मान गी ई-पर्यटक वीजा दी मंजूरी दी तरीक थमां 30 दिनें अंदर भारत च दाखले दी मंजूरी मिलग ते भारत च आगमन दी तरीक थमां भारत च 30 दिन रौह्​ने लेई मान्य होग। इस सुविधा कन्नै लोकें गी घट्ट अवधि दी जात्तरा दी योजना बनाने, होर देशें दी जात्तरा करदे बेल्लै वाया मार्गें गी लैना ते बपार सरबंधी जात्तराएं च परिवार दे सदस्यें गी अपने कन्नै आह्​नने च हौसला-हफजाई करग।

जात्तरा योजना लेई पात्रता

  • अंतर्राश्ट्री जात्तरू जिंदे भारत दौरे दा इकमात्र उद्देश मनोरंजन, पर्यटन थाह्​रें दा सैर-सपाटा, दोस्तें जां रिश्तेदारें कन्नै मिलने लेई अचानक जात्तरा, निक्की अवधि च डाक्टरी इलाज जां अचानक बपार जात्तरा होए।
  • पासपोर्ट दी वैधता भारत च आगमन दी तरीक थमां घट्ट थमां घट्ट छे म्हीने होनी चाहिदी। पासपोर्ट आव्रजन अधिकारी आसेआ मुद्रांकन लेई घट्ट थमां घट्ट दो खाली पन्नें होने चाहिदे।
  • अंतर्राश्ट्री जात्तरी गी भारत च उसदी/उसदे प्रवास दरान खर्च करने लेई मनासब पैहें कन्नै, वापसी टिकट जां अगड़ी जात्तरा दी टिकट होनी चाहिदी।
  • पाकिस्तानी पासपोर्ट जां पाकिस्तानी मूल दे अंतर्राश्ट्री जात्तरी भारती मिशन पर नियमित रूप कन्नै वीजा लेई आवेदन करी सकदे न।
  • एह् योजना सरकारी/राजनयिक पासपोर्ट धारकें लेई उपलब्ध नेईं ऐ।
  • अभिभावक/पति दे पासपोर्ट पर समर्थत माह्​नुयें लेई उपलब्ध नेईं ऐ यानी हर इक माह्​नू कोल इक अपना पासपोर्ट होना चाहिदा।
  • अंतर्राश्ट्री जात्तरा दस्तावेज धारकें लेई उपलब्ध नेईं ऐ।

ई-पर्यटक वीजा लेई आवेदन कि’यां कीता जा?

ई-पर्यटक वीजा दे आवेदन दी प्रक्रिया इस चाल्ली ऐ:-

  • आनलाइन आवेदन - पासपोर्ट पन्ने ते फोटो अपलोड करो
  • वीजा फीस आनलाइन भुगतान करो - क्रेडिट/डेबिट कार्ड दी बरतून करियै
  • ईटीवी आनलाइन हासल करो - ईटीवी थुआढ़े ई-मेल पर भेजेआ जाह्​ग
  • आनलाइन वीजा दी स्थिति दी जांच करो - वीजा दी स्थिति, भुगतान दी स्थिति पता करने लेई ते ई-पर्यटक वीजा प्रिंट करने लेई बरतेआ जाई सकदा ऐ।
  • भारत लेई उड़ान भरो- ईटीवी प्रिंट करो ते जात्तरा बेल्लै अपने कन्नै लेई जाओ।

ई-पर्यटक वीजा दी फीस किन्नी ऐ?

भारत सरकार ने 3 नवम्बर, 2015 थमां ई-पर्यटक वीजा (ई-टीवी) फीस गी चार स्लैब – सिफर, 25 अमेरिकी डांलर, 48 अमेरिकी डालर ते 60 अमेरिकी डालर च संशोधत कीता ऐ। इसलै ई-टीवी आवेदन शुल्क 60 अमेरिकी डालर ते बैंक प्रभार 2 अमेरिकी डालर ऐ जेह्​ड़ा सभनें देशें लेई इक समान ऐ। वीजा फीस च संशोधन आपसी लैन-देन दे सिद्धांत दे अधार पर कीता गेआ ऐ। बैंक प्रभारें गी ई-टीवी फीस दे 2.5 प्रतिशत थमां घटाइयै 2 अमेरिकी डालर करी दित्ता गेआ ऐ। सिफर वीजा शुल्क लेई कोई बैंक प्रभार नेईं लैता जंदा ऐ।

ई-पर्यटक वीजा (ईटीवी) लेई लोड़चदे दस्तावेज न

  • पासपोर्ट दे पैह्​ले पेज दा स्कैन
  • प्रारूप -पीडीएफ
  • साइज: घट्टोघट्ट 10 केबी, बद्धोबद्ध 300 केबी

वीजा आवेदन कन्नै अपलोड कीता जाने आह्​ला डिजिटल फोटोग्राफ एह्​कड़ियें जरूरतें गी पूरा करना चाहिदा:

  • प्रारूप - जेपीईजी
  • साइज: घट्टोघट्ट 10 केबी, बद्धोबद्ध 1 एमबी
  • फोटो दी ऊंचाई ते चौड़ाई दे बरोबर होनी चाहिदी।
  • फोटो च पूरा चेह्​रा दस्सेआ जाना चाहिदा ते अक्खां खुल्लियां होनियां चाह्​दियां।
  • सिर गी फ्रेम दे केंदर च रक्खो ते पूरा सिर बालें दे उप्पर थमां ठुड्डी तगर दस्सेआ जा।
  • पछौकड़ हल्के रंग दी जां चिट्टी होनी चाहिदी।
  • चेह्​रे पर जां पछौकड़ पर कोई परछाई नेईं होनी चाहिदी।
  • बिना बार्डर

भारत च आगमन पर ई-पर्यटक वीजा योजना लेई पात्र देशें दी सूची

27 नवंबर, 2014 थमां शुरू होई दी ई-पर्यटक वीजा सुविधा 25 फरवरी, 2016 तगर 113 देशें दे नागरिकें लेई उपलब्ध ही। भारत सरकार ने 26 फरवरी, 2016 इस योजना दा 37 देशें दे नागरिकें लेई विस्तार कीता ते हून एह् सुविधा हासल देशें दी संख्या बधियै 150 होई गेई ऐ।

26 फरवरी, 2016 दे अनुसार ई-पर्यटक वीजा लेई पात्र 150 देशें दी सूची इस चाल्ली ऐ: -

अल्बानिया, एंडोरा, एंगुइला, एंटीगुआ ते बारबुडा, अर्जेंटीना, आर्मेनिया, अरूबा, आस्ट्रेलिया, आस्ट्रिया, बहामा, बारबाडोस, बेल्जियम, बेलीज, बोलिविया, बोस्निया ते हर्जेगोविना, बोत्सवाना, ब्राजील, ब्रुनेई, बुल्गारिया, कंबोडिया, कनाडा, केप वर्डे, केमैन द्वीप, चिली, चीन, चीन एसएआर हांगकांग, चीन एसएआर मकाऊ, कोलंबिया, कोमोरोस, कुक आइलैंड्स, कोस्टारिका, कोटे डी इवोयर, क्रोएशिया, क्यूबा, चेक गणराज्य, डेनमार्क, जिबूती, डोमिनिका, डोमिनिकन गणराज्य, पूर्वी तिमोर, इक्वाडोर, अल साल्वाडोर, इरिट्रिया, एस्टोनिया, फिजी, फिनलैंड, फ्रांस, गैबान, गाम्बिया, जार्जिया, जर्मनी, घाना, ग्रीस, ग्रेनेडा, ग्वाटेमाला, गिनी, गुयाना, ऐती, होंडुरास, हंगरी, आइसलैंड, इंडोनेशिया, आयरलैंड, इजरायल, जमैका, जापान, जॉर्डन, केन्या, किरिबाती, लाओस, लातविया, लेसोथो, लाइबेरिया, लिकटेंस्टीन, लिथुआनिया, लक्समबर्ग, मेडागास्कर, मलावी, मलेशिया, माल्टा, मार्शल द्वीप, मॉरीशस, मैक्सिको, माइक्रोनेशिया, माल्डोवा, मोनाको, मंगोलिया, मोंटेनेग्रो, मोंटसेराट, मोजाम्बिक, म्यांमार, नामीबिया, नौरू, नीदरलैंड, न्यूजीलैंड, निकारागुआ, नियू आइलैंड, नार्वे, ओमान, पलाऊ, फिलिस्तीन, पनामा, पापुआ न्यू गिनी, पराग्वे, पेरू, फिलीपींस, पोलैंड, पुर्तगाल, कोरिया गणराज्य, मैसिडोनिया, रोमानिया, रूस, सेंट क्रिस्टोफर ते नेविस, सेंट लूसिया, सेंट विंसेंट ते ग्रेनेडाइंस, समोआ, सैन मैरिनो, सेनेगल, सर्बिया, सेशल्स, सिंगापुर, स्लोवाकीता, स्लोवेनिया, सोलोमन टापू, दक्खनी अफ्रीका, स्पेन, श्रीलंका, सूरीनाम, स्वाजीलैंड, स्वीडन, स्विट्जरलैंड, ताइवान, ताजिकिस्तान, तंजानिया, थाईलैंड, टोंगा, त्रिनिदाद ते टोबैगो, तुर्क ते कैकोस टापू, तुवालु, संयुक्त अरब अमीरात, यूक्रेन, यूनाइटेड किंगडम, उरुग्वे, अमरीका, वानुअतु, वेटिकन सिटी-होली सी, वेनेजुएला, वियतनाम, जाम्बिया ते जिम्बाबे।

ब्हाई-अड्डें दी सूची जित्थै ई-पर्यटक वीजा दी सुविधा उपलब्ध ऐ-

उ’नें ब्हाई-अड्डें दी सूची जित्थै ई-पर्यटक वीजा दी सुविधा उपलब्ध ऐ इस चाल्ली ऐ-

ई-पर्यटक वीजा सुविधा हून एह्​कड़े 16 ब्हाई-अड्डें पर उपलब्ध ऐ (26 फरवरी, 2016 दे अनुसार) - दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, कोलकाता, हैदराबाद, बेंगलुरू, तिरुवनंतपुरम, कोच्चि, गोवा, वाराणसी, गोआ, अहमदाबाद, अमृतसर, तिरुचिरापल्ली, जयपुर ते लखनऊ।

ई-पर्यटक वीजा लेई विशेश दिशा-निर्देश

  • पात्र देशें दे आवेदक 30 दिनें दी समें-सीमा कन्नै आगमन दी तरीक थमां घट्ट थमां घट्ट 4 दिन पैह्​ले आनलाइन आवेदन करी सकदे न। मसाल दे तौर पर जेकर तुस 1 सितंबर गी आवेदन करै करदे ओ तां तुस 5 सितम्बर - 4 अक्टूबर मझाटै आगमन दी तरीक दा चुनांऽ करी सकदे ओ।
  • हालिया चिट्टे पछौकड़ च लैती गेई फोटो ते पासपोर्ट दा फोटो पेज जिस च नांऽ, जन्म दी तरीकी, राश्ट्रीयता, एक्सपायरी डेट बगैरा निजी जानकारी कन्नै युक्त होए कन्नै आवेदक आसेआ अपलोड कीता जाना ऐ। जेकर अपलोड कीते गेदे दस्तावेज ते फोटोग्राफ हिदायतें अनुरूप/स्पश्ट नेईं न, तां आवेदन नां-मंजूर कीता जाई सकदा ऐ।
  • ई-पर्यटक वीजा (ईटीवी) दी फीस क्रेडिट/डेबिट कार्ड लेई इंटरचेंज प्रभारी गी छोड़ियै प्रति जात्तरी $60 ऐ। फीस जात्तरा दी तरीक थमां घट्ट थमां घट्ट 4 दिनें पैह्​ले भुगतान कीती जानी चाहिदी नेईं ते आवेदन प्रोसेस नेईं कीता जाह्​ग।
  • इक बार दित्ती गेई ईटीवी फीस परतियै वापस नेईं कीती जाह्​ग कीजे एह् फीस आवेदन दे प्रसंस्करण लेई ऐ ते अनुदान जां वीजा दी नां-मंजूरी कुसै पर निर्भर नेईं ऐ।
  • आवेदक गी जात्तरा बेल्लै ईटीवी दी इक कापी लेई जानी चाहिदी।
  • आवेदक दा बायोमैट्रिक ब्योरा जरूरी रूप कन्नै भारत च आगमन पर आव्रजन पर संधारत कीता जाह्​ग।
  • वीजा दी वैधता भारत च आगमन दी तरीक थमां 30 दिनें दी होग।
  • ईटीवी 9 नामित ब्हाई-अड्डें यानी बेंगलुरू, चेन्नई, कोचीन, दिल्ली, गोवा, हैदराबाद, कोलकाता, मुंबई ते तिरुवनंतपुरम राहें दाखले लेई मान्य ऐ। हालांकि, विदेशी अधिकृत आव्रजन जांच चौकियें च कुसै राहें बी भारत थमां बाह्​र जाई सकदे न।
  • एह् सुविधा मौजूदा वीजा सेवाएं दे अलावा ऐ।
  • ईटीवी दी मंजूरी इक कैलेंडर ब’रे च बद्धोबद्ध दो जात्तराएं लेई ऐ।
  • ईटीवी इक बार आगमन पर सिर्फ इकल प्रवेश लेई, अन-बदली ते बधाई नेईं जाई सकदी ऐ ते संरक्षत/बर्जत ते छौनी खेत्तरें च औने लेई मान्य नेईं ऐ।
  • आवेदक अपने आनलाइन आवेदन दी स्थिति वीजा दी स्थिति पर क्लिक करियै दिक्खी सकदे न।
  • ईटीवी फीस दा भुगतान करदे बेल्लै किरपा करियै सौह्​ग्गे रवो। जेकर असफल कोशिशें दी संख्या त्रै (03) थमां मती ऐ, तां आवेदन आईडी अवरुद्ध करी दित्ता जाह्​ग ते आवेदक गी परतियै फ्ही आवेदन करने लेई नमें सिरे थमां आवेदन पत्र भरना होग ते नमीं आवेदन आईडी हासल करनी होग।
  • मुड़ियै आवेदन करने थमां पैह्​ले, आवेदकें गी अखीरी आवेदन फार्म जमा करने ते फीस दे भुगतान दे बाद, भुगतान दी स्थिति गी अपडेट करने लेई 4 घैंटे लेई इंतजार करने दा अनुरोध ऐ। भुगतान दी स्थिति गी अपडेट करने लेई 4 घैंटे तगर दा समां लग्गी सकदा ऐ।
  • पीत ज्वर प्रभावित देशें दे नागरिकें गी भारत च आगमन बेल्लै पीले बुखार दा टीकाकरण कार्ड कन्नै रक्खना चाहिदा नेईं ते उ’नेंगी भारत च आगमन पर 6 दिनें लेई निगरानी च रक्खेआ जाई सकदा ऐ। पीले बुखार आह्​ले देशें दे सरबंध च नमें दिशा निर्देशें लेई सेह्​त ते परिवार कल्याण मंत्रालय जाओ।
  • कुसै बी मदाद लेई 24x7 वीजा समर्थन केंदर गी +91-11-24300666 पर काल करो जां ।nd।atvoa@gov.in पर ई-मेल भेजो।

स्त्रोत:पत्र सूचना कार्यालय

2.375
अपनी राऽ देओ

उप्पर दित्ते गेदे बिशे च जेकर तुंदी कोई प्रतिक्रिया/ राऽ ऐ तां किरपा करियै इत्थे पोस्ट करी लैओ

Enter the word
Back to top