घर / ई-शासनम् / डिजिटल फ़ाइनेंशियल सर्विसस / डिजिटल फ़ाइनेंशियल सर्विसस
सांझा करो
Views
  • राज्य Open for Edit

डिजिटल फ़ाइनेंशियल सर्विसस

एह् भाग डिजिटल फ़ाइनेंशियल सर्विसस दी जरूरी जानकारी दिंदा ऐ

डिजिटल फ़ाइनेंशियल समावेश दा सरबंध समाज दी मुक्ख धारा थमां बाह्​र ते अधिकार हीन लोकें तगर डिजिटल पौंह्​च ते औपचारिक माली सेवाएं दे बरतून दे मौके प्रदान करोआना ऐ। इस उद्देश गी हासल करने लेई शुरु कीता गेदी सेवाएं गी डिजिटल फाइनेंशियल सर्विसिस (DFS) दे रूप च जानेआ जंदा ऐ। इ’नेंगी ग्राहकें दी लोड़ मताबक बनाया जंदा ऐ ते ज़िम्मेदारी कन्नै ऐसी मनासब कीमत पर उपलब्ध करोआया जंदा ऐ जेह्​ड़ी ग्राहकें दी पौंह्​च च ते देने आह्​लें लेई स्थाई होए। ऐसी कुसै बी डिजिटल फाइनेंशियल सर्विस दे मुक्ख त्रै हिस्से होंदे न: लैन-देन दा इक डिजिटल प्लेटफार्म, खुदरा अजैंट्ट ते ग्राहकें ते अजैंट्टें आसेआ डिवाइस दी बरतून, आमतौर पर मोबाइल प्लेटफार्म राहें कारोबार करना।

एह इक जरिया ऐ जिस कन्नै डिजिटल चैनल राहें बैंक कन्नै नेईं जुड़ी दी अबादी फाइनेंशियल सेवां तेजी कन्नै हासल करै करदी ऐ। बैंक, निक्की फाइनेंस संस्थां, मोबाइल ओप्रेटर ते थर्ड पार्टी सेवा देने आह्​ले मोबाइल फोन, बिक्री केंदर उपकरण, निक्के स्तर दे अजैंट्ट नेटवर्क कन्नै जुड़ियै बड्डे स्तर पर दस्तूरी बैंकिंग दी तुलना च सुविधाजनक तरीके बड़ी घट्ट कीमत पर बुनियादी माली सेवां सेवां प्रदान करै करदे न।

इस पुस्तक च जि’नें डिजिटल फाइनेंशियल सर्विसेस पर चर्चा कीती दी ऐ ओह् इस चाल्ली न:

  • कार्ड
  • USSD-यूएसएसडी
  • AEPS-एईपीएस
  • UPI-यूपीआइ
  • वालेट

कार्ड

कार्ड केह् न?

एह् आमतौर पर बैंक आसेआ जारी कीते जंदे न ते इ’नेंगी जारी करने, बरतून करने ते कार्डधारक आसेआ भुगतान दे अधार पर बंडेआ जाई सकदा ऐ। कार्ड त्रै चाल्ली दे होंदे न: डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड ते प्रीपेड कार्ड।

कार्ड केह्​ड़ी-केह्​ड़ी किस्म दे होंदे न?

  • 1. प्रीपेड कार्ड: एह् ग्राहक दे बैंक अकाउंट कन्नै प्री-लोड होंदे न ते इंदी बरतून सीमत लैनदेन लेई कीती जाई सकदी ऐ। इ’नेंगी मोबाइल रीचार्ज आंह्​गर रीचार्ज कीता जाई सकदा ऐ ते बरतून लेई सुरक्षत होंदे न।
  • 2. डेबिट कार्ड: एह् खाताधारी दी बैंक आसेआ जारी कीता जंदा ऐ ते बैंक अकाउंट कन्नै लिंक होए दा होंदा ऐ। डेबिट कार्ड (करंट/सेविंग/ओवरड्राफ्ट) खाताधारकें गी जारी कीते जंदे न ते बरतून करने पर खर्ची फौरन बरतूनकर्ता दे खाते थमां कट्टी लैती जंदी ऐ। बरतूनकर्ता इस कार्ड दी बरतून अपने बैंक अकाउंट च मौज़ूद जमाराशि दी हद तगर गै करी सकदा ऐ। इसदी बरतून सिर्फ इक माह्​नू शा दुए गी घरेलू फंड ट्रांसफर लेई बी कीती जाई सकदी ऐ।
  • 3. क्रेडिट कार्ड: इ’नेंगी बैंक/रिजर्व बैंक अधिकृत होर कम्पनियें आसेआ जारी कीता जंदा ऐ। इ’नेंगी घरेलू जां अंतर्राश्ट्री (जेकर अंतर्राश्ट्री बरतून लेई सक्षम बनाया गेआ होए) पद्धर पर बरतेआ जाई सकदा ऐ। डेबिट कार्ड थमां बक्ख, क्रेडिट कार्ड दे मामले च कोई बी ग्राहक अपने बैंक खाते च जमा धनराशि दी मात्रा थमां बी मते पैहे कड्ढी सकदा ऐ। पर हर इक क्रेडिट कार्ड दी इक हद्द होंदी ऐ ते इस शा मते पैहे तुस नेईं कड्ढी सकदे।

इसदे कन्नै गै साथ अपने बैंक खाते च जमा धनराशि थमां बाद्धू कड्ढे गेदे पैहें दा भुगतान निर्धारत समें च जमा करोआना होंदा ऐ, चिर होने पर कार्डधारक गी इस धनराशि दा भुगतान निर्धारत ब्याज सनें करना पौंदा ऐ।

डेबिट/क्रेडिट कार्ड दी बरतून कि’यां करचै?

  • 1. एटीएम थमां पैहा कड्ढने लेई, बरतूनी गी डेबिट/क्रेडिट कार्ड मशीन च पाइयै बैंक आसेआ दित्ता गेदा अपना खास PIN नंबर (4 अंकी) दाखल करना पौंदा ऐ। इक दिन च कड्ढी जाने आह्​ली अधिकत्म राशि बैंक आसेआ निर्धारत कीती जंदी ऐ।
  • 2. डेबिट कार्ड कन्नै कार्डधारक एटीएम(ATM) दी बरतून, बैंक शाखा च जाए बिना, बैंक बैलेंस पता करने लेई, चेक जां पैहे जमा करने लेई, मिनी स्टेटमेंट हासल करने लेई बगैरा जनेह् माली ते गैर-माली लैन-देन दी सेवाएं लेई करी सकदा ऐ।
  • 3. बड्डे खुदरा स्टोरें ते दुकानें च खरीदारी करदे बेल्लै हेठ दित्ती दी प्रक्रिया दा पालन करो:

में इ’नें कार्डें दी बरतून कीह् करां?

  • कुतै बी खरीदारी लेई अपने कार्ड दी बरतून करो।
  • दुकानें, एटीएम(ATM), वालेट, माइक्रोएटीएम(ATM),आनलाइन खरीदारी करने बरते जाई सकदे न।
  • डेबिट ते क्रेडिट कार्ड, दोनें दी बरतून एटीएम(ATM) थमां नगद कड्ढने, बिक्री केंदरें पर समान ते सेवाएं दी खरीद ते आनलाइन खरीद लेई कीती जाई सकदी ऐ।
  • हर चाल्ली दे भोगता बिलें दे भुगतान लेई बरतेआ जाई सकदा ऐ।
  • बरतूनी इसदे कन्नै (ब्हाई-ज्हाज/रेलवे/बस) दे टिकट खरीदी सकदे न, होटल च बुकिंग करी सकदे न ते रेस्टोरेंट च भुगतान करी सकदे न।
  • बरतूनी ऐसी कुसै बी थाह्​र पर जित्थै कार्ड रीडर/POS मशीन होए कुसै बी सेवा दे भुगतान लेई कार्ड दी बरतून करी सकदे न।

कार्ड कि’यां हासल कीता जाई सकदा ऐ?

बरतूनी डेबिट/रपेऽ/क्रेडिट कार्ड लेई सब्भै सार्वजनिक ते निजी बैंकें च आवेदन करी सकदे न।

  • नागरिक अपनी बैंक शाखा च आवेदन देइयै डेबिट कार्ड हासल करी सकदे न।
  • नागरिक अपने डेबिट कार्ड रुपेऽ कार्ड च बी बदली सकदे न।
  • जि’नें नागरिकें कोल बैंक खाते नेईं न उ’नेंगी कार्ड हासल करने लेई पैह्​लें खाता खोलना पौंदा ऐ।
  • सरकार दे आदेश अनुसार, सब्भै जन धन योजना खाता धारकें गी रुपेऽ (RuPay) कार्ड जारी कीते जाङन।

USSD (अन्स्ट्रक्चर्ड सप्लिमेंटरी सर्विस डाटा)

USSD केह् ऐ?

USSD दा अर्थ ऐ अन्स्ट्रक्चर्ड सप्लिमेंटरी सर्विस डाटा। एह् इक सेवा ऐ जिसदा उद्देश बैंकिंग गी देश दे हर आम नागरिक तगर पजाना ऐ। एह् सेवा हर ग्राहक गी कुसै बी टेलीकाम सेवा देने आह्​ले, मोबाइल सेट निर्माता जां खेत्तर च होने पर प्रभावत होए बिना बैंकिंग सेवां हासल करना ऐ। एह् नेशनल यूनिफाइड USSD प्लेटफ़ार्म (NUUP) दे ज़रिए इक शार्ट कोड *99# पर प्रदान कीती जंदी ऐ। इसी हर दिन प्रति ग्राहक रु.5000 भुगतान लेई इस्तेमाल कीता जाई सकदा ऐ।

थुआढ़े कोल केह् होना लोड़चदा ऐ?

  • कुसै बैंक च खाता।
  • GSM नेटवर्क पर कोई बी मोबाइल फोन।
  • उपभोक्ता खाते दे बैंक च मोबाइल नंबर पंजीकृत होना चाहिदा ऐ।

में इसदी बरतून कि’यां करां?

  • अपनी बैंक शाखा जाओ ते अपना मोबाइल नम्बर अपने बैंक खाते कन्नै लिंक कराओ (एह ATM पर जां आनलाइन बी होई सकदा ऐ)
  • तुसेंगी मोबाइल मनी आइडेंटिफायर (MMID) ते मोबाइल पिन (MPIN) हासल होग।
  • MPIN गी याद रक्खो।

USSD दे केह् लाह् न?

USSD सुविधा इस्तेमाल करने दे चरण:

एह अपने फोन शा प्रीपेड बैलेंस चेक करने जिन्ना सौक्खा ऐ! लैनदेन इक आम मोबाइल फोन कन्नै करना बी मुमकन ऐ।

  • अपना मोबाइल नंबर अपने बैंक खाते कन्नै लिंक करो
  • अपने फोन थमां *99# डायल करो
  • अपने बैंक दे नांऽ दे पैह्​लै 3 अक्खर भरो जां IFSC दे पैह्​लै 4 अक्खर
  • “Fund-Transfer-MMID” विकल्प चुनो
  • हासलकर्ता दा मोबाइल नंबर ते MMID दर्ज़ करो

रकम ते अपना MPIN दाखल करो, इक खाल्ली थाह्​र छोड़ो ते अपने खाते दे खीरी 4 नंबर दाखल करो। उप्पर दित्ते गेदे चरणें राहें तुस अपनी रकम ट्रांसफर करी सकदे ओ।

उपलब्ध सेवां:

ग़ैर-माली सेवां:

  • बैलंस दी जानकारी-बरतूनी मोबाइल नंबर कन्नै लिंक बैंक खाते च उपलब्ध बैलंस चैक करी सकदे न
  • मिनी स्टेटमैंट -बरतूनी मोबाइल नंबर कन्नै लिंक बैंक खाते च उपलब्ध मिनी स्टेटमैंट हासल करी सकदे न
  • MMID *(Mobile Money Identifier) दी जानकारी – बरतूनी बैंक आसेआ मोबाइल बैंकिंग रजिस्ट्रेशन दरान दित्ते गेदे MMID जानी सकदे न।
  • M-PIN बनाना/बदलना–बरतूनी M-PIN (Mobile PIN)बनाई/बदली सकदे न जेह्​ड़ा कि पासवर्ड आंह्​गर होंदा ऐ ते माली लैनदेन च प्रमाणीकरण लेई बरतेआ जंदा ऐ।

माली सेवां:

  • मोबाइल नंबर ते MMID दे बरतून कन्नै फंड ट्रांसफर –बरतूनी MMID ते लाभार्थी दे मोबाइल नंबर दी बरतून कन्नै फंड ट्रांसफर करी सकदे न।
  • खाता संख्या ते IFSC दे बरतून कन्नै फंड ट्रांसफर - बरतूनी लाभार्थी दे IFSC कोड ते खाता संख्या कन्नै फंड ट्रांसफर करी सकदे न।

होर मती हिदायतें लेई तुस अपने सरबंधत बैंक दी वेबसाइट दिक्खी सकदे ओ ।

ऐईपीएस (आधार एनेबल्ड पेमेंट सर्विस)

ऐईपीएस केह् ऐ?

ऐईपीएस दा मतलब ऐ आधार एनेबल्ड पेमेंट सिस्टम। एह् इक भुगतान सेवा ऐ जेह्​ड़ी बैंक ग्राहक गी अपने आधार पंछान कन्नै आधार सक्रिय बैंक खाते तगर पौंह्​च बनाने ते समान्य बैंकिंग लैनदेन दी स्हूलत प्रदान करदी ऐ। एह् बैंकिंग कारस्पॉंडेंट (BC) दी मदद कन्नै PoS (MicroATM) पर बैंक-शा-बैंक लैनदेन दी इजाजत दिंदी ऐ। बरतूनी गी बैंक च जां BC दी मदद कन्नै अपने खाते च आधार नंबर दर्ज करोआना होंदा ऐ। बरतूनी बगैर PIN जां पासवर्ड दे कुसै बी AEPS बिन्दु पर मनमाफक संख्या च लैनदेन करी सकदा ऐ।

मेरे कोल ऐईपीएस सक्रिय करने लेई केह् होना लोड़चदा ऐ?

कुसै बी ग्राहक कोल AEPS लैनदेन करने लेई एह् सब किश जरूरी ऐ:-

  • IIN (बैंक दी पंछान जिस कन्नै ग्राहक जुड़े दा ऐ)
  • आधार नंबर
  • नांऽ दर्ज़ करदे बैल्लै लैते गेदे उंगलियें दे निशान

में इसदी बरतून कीह् करां?

ऐईपीएस कन्नै तुस ख’ल्ल दित्ते दे लैनदेन करी सकदे ओ:-

  • बैलेंस जानकारी
  • नगद निकासी
  • नगद जमा करना
  • आधार शा आधार फंड ट्रांसफर
  • उचत मुल्ल दी दकानें पर AEPS कन्नै खरीदारी

ऐईपीएस लैनदेन दी प्रकिया ख’ल्ल दित्ती गेदी ऐ:

में इसदी बरतून कीह् करां?

  • आधार नंबर ते उंगलियें दे निशान दी बरतून करियै इस्तमाल करने पर बरतने च सौक्खा, सुरक्षत ते भरोसेजोग भुगतान प्लेटफार्म।
  • कुसै माह्​नू दी जनांकिक ते बायोमीट्रिक/अक्खै दी पुतली दी जानकारी पर आधारत होने कन्नै कुसै बी चाल्ली दी धोखाधड़ी जां अनुचित गतिविधि गी रोकदा ऐ।
  • नरेगा, समाजक सुरक्षा पेंशन, दिव्यांग बुढ़ापा पेंशन बगैरा जनेही केंदरी जां रियासती सरकारें आसेआ दित्ती जा करदी स्हूलतें दी बंड गी आधार राहें सुविधाजनक बनांदा ऐ।
  • बैंकें च आपसी लैनदेन गी सुरक्षत करियै सौक्खा बनांदा ऐ।
  • बैंकें गी अपने नेटवर्क दी पौंह्​च थमां दूर ग्राहकें गी माली सेवां देने लेई समर्थ बनांदा ऐ कीजे BCs दे लाभार्थी मते सारे जां ते बैंक खाता रैह्​त न जां बैंकें दी घट्ट संख्या आह्​ले थाह्​रें पर होंदे न।
  • वर्तमान च लैनदेन पर कोई शुल्क नेईं लागया जंदा ऐ।
  • बैंक खाता नंबर याद रक्खने दी कोई लोड़ नेईं।
  • बायोमीट्रिक उपकरण रक्खने आह्​ले उपभोक्ता कम्प्यूटर, एंड्राइड फोन/टैबलट दी बरतून करियै घर बैठे गै लैनदेन करी सकदे न। किश टैबलटें च इनबिल्ट बायोमीट्रिक उपकरण होंदे न जिंदी बरतून कन्नै लैनदेन कीता जाई सकदा ऐ।

यूपीआई (यूनिफाइड पेमेंट इंटर्फेस)

यूपीआई केह् ऐ?

यूपीआई दा अर्थ ऐ यूनिफाइड पेमेंट इंटर्फेस। यह बरतूनी दे स्मार्टफोन राहें फौरी इलेक्ट्रानिक भुगतान प्रणाली ऐ। एह् फौरी भुगतान सेवा (IMPS) दा उन्नत संस्करण ऐ जेह्​ड़ी इक बैंक खाते चा दुए बैंक खाते च रकम ट्रांसफर करने लेई बरती जंदी ही।

IMPS आंह्​गर UPI चौबे घैंटे फंड ट्रांसफर करने दी सेवा गी सुविधाजनक बनांदी ऐ।

  • एह् उस्सै तरह बरतूनी दी पंछान गी प्रमाणत करदी ऐ जिस चाल्ली बक्ख कार्ड दा बरतून करने दे बजाय फोन राहें क्रेडिट कार्ड दी बरतून करने च होंदा ऐ।
  • एह् 24x7, 365 ध्याड़े कम्म करदी ऐ।

थुआढ़े कोल केह् होना लोड़चदा ऐ?

  • यूपीआई एप्लिकेशन (ऐप) कन्नै इक स्मार्ट फोन
  • इक बैंक खाता

एह् कम्म कि’यां करदी ऐ?

यूपीआई राहें आनलाइन लैनदेन लेई 3 चरणें दी इक आसान प्रक्रिया ऐ:

इसदियां खासियतां ते लाह् केह् न?

  • यूपीआई बरतूनी दे नांऽ, बैंक खाता नंबर, IFSC कोड जां बैंक शाखा दा ब्यौरा सांझा करने दी लोड़ खत्म करदी ऐ।
  • यूपीआई डेबिट कार्ड जनेह् कन्नै लेइयै टुरने आह्​लें साधनें दी बरतून गी खत्म करदी ऐ।
  • नेट बैंकिंग जनेही बहु-चरणी प्रक्रियाएं दी बरतून दी लोड़ नेईं, जिंदे च असुरक्षत फ्रेमवर्क कन्नै फिशिंग दा खतरा होंदा ऐ।
  • बड़ा सौक्खा ऐप्लिकेशन जिसदी बरतून कोई बी करी सकदा ऐ।
  • फौरी ते सुरक्षत प्रमाणीकरण कुतै बी शुरू कीता जाई सकदा ऐ।
  • पूरी चाल्ली नगदी रैह्​त डिजिटल समाज आह्​ली बक्खी अग्रसर करदा ऐ।
  • इनवाइस आंह्​गर रकम दे अनुरोध लेई बरतेआ जाई सकदा ऐ।
  • ग्राहक अपने भोगता बिलें ते स्कूल फीस दे आनलाइन भुगतान लेई बी यूपीआई दी बरतून करी सकदे न।

ई-वालेट

ई-वालेट केह् ऐ?

ई-वालेट दा मतलब ऐ इलेक्ट्रानिक वालेट। एह् इक चाल्ली दा इलेक्ट्रानिक कार्ड ऐ जिसदे राहें कम्प्यूटर जां स्मार्टफोन राहें आनलाइन लैनदेन कीता जंदा ऐ। ई-वालेट दी बरतूनता क्रेडिट जां डेबिट कार्ड आंह्​गर गै ऐ। ई-वालेट कन्नै भुगतान करने लेई गी माह्​नू गी इसी अपने बैंक खाते कन्नै लिंक करना होंदा ऐ। ई-वालेट दा मुक्ख उद्देश ऐ कागज़ रैह्​त रकम ट्रांसफर गी मता सौक्खा बनाना।

ई-वालेट दियां खासियतां

एह् कम्म कि’यां करदा ऐ?

ई-वालेट दे मुक्ख रूप च दो हिस्से होंदे न, साफ़्टवेयर ते जानकारी।
साफ़्टवेयर हिस्सा निजी जानकारी जमा करदा ऐ ते डेटा सुरक्षा ते एंक्रिप्शन दिंदा ऐ जद् के जानकारी हिस्सा बरतूनी आसेआ दित्ते गेदे ब्यौरें दा डेटाबेस होंदा ऐ जिस च उसदा नांऽ, डाक पता, भुगतान विधि, भुगतान कीता जाने आह्​ली रकम, क्रेडिट जां डेबिट कार्ड दा ब्यौरा बगैरा होंदे न।

में ई-वालेट दी बरतून कि’यां करां?

बरतूनियें लेई:
  • अपने डिवाइस च ऐप डाउनलोड करो।
  • जरुरी जानकारी देइयै लागइन करो। बरतूनी गी इक पासवर्ड हासल होग।
  • डेबिट/क्रेडिट कार्ड जां नेटबैंकिंग राहें रकम भरो।
  • आनलाइन खरीदारी दे बाद, ई-वालेट भुगतान फार्म पर बरतूनी ब्यौरा आपूं गै आई जंदा ऐ।
  • आनलाइन भुगतान करने दे बाद, बरतूनी गी आर्डर फ़ार्म कुसै बी होर वेबसाइट पर भरने दी लोड़ नेईं होंदी ऐ कीजे ब्यौरा डेटाबेस च जमा होई जंदा ऐ ते अपने-आप अपडेट होई जंदा ऐ।
बपारियें लेई:
  • बपारी अपनी डिवाइस च ऐप डाउनलोड करदे न।
  • निर्धारत जानकारी देकर लागइन करना। बरतूनी गी इक पासवर्ड हासल होग।
  • अपने-आप गी बपारी दे रूप च घोशत करना।
  • भुगतान मंजूर करना।

मेरे कोल ई-वालेट दी बरतून शुरू करने लेई केह् होना चाहिदा ऐ?

  1. बैंक अकाउंट
  2. स्मार्ट फोन
  3. 2G/3G/4G कनेक्शन
  4. इक मुफ्त वालेट ऐप

पालन कीता जाने आह्​लियां जरूरी गल्लां

  • SMS राहें हर दिन दी लैनदेन दी नियमत जानकारी हासल करने लेई बैंक च अपना मोबाइल नंबर दर्ज कराओ।
  • अपना PIN कदें बी कुसै कन्नै सांझा नेईं करो।
  • सिर्फ भरोसेमंद बपारियें कन्नै लैनदेन करो।
  • ATM दी बरतून करदे बेल्लै एह् जकीनी करो जे पिच्छुआं कोई दिक्खै ते नेईं करदा ऐ।

स्त्रोत: सीेएससी इंडिया

2.79166666667
अपनी राऽ देओ

उप्पर दित्ते गेदे बिशे च जेकर तुंदी कोई प्रतिक्रिया/ राऽ ऐ तां किरपा करियै इत्थे पोस्ट करी लैओ

Enter the word
Back to top