घर / सेहत / सेह्‌त योजनां / जननी शिशु सुरक्षा कार्यक्रम(जेएसएसवाई)
सांझा करो
Views
  • राज्य Open for Edit

जननी शिशु सुरक्षा कार्यक्रम(जेएसएसवाई)

इस पेज पर जननी शिशु सुरक्षा कार्यक्रम (जेएसएसवाई) दी जानकारी दित्ती गेई ऐ।

भूमका

नवजात शिशुएं गी सेह्‌त दियां सुविधां नेईं मिलने करियै मृत्‍यु दी समस्या दा निवारण करने लेई सेह्‌त ते परिवार कल्‍याण मंत्रालय ने (जननी शिशु सुरक्षा कार्यक्रम) क जून 2011 गी गर्भवती महिलाएं ते बमार नवजात शिशुएं गी बेह्‌तर सेह्‌त सुविधां प्रदान करने लेई शुरू कीता ही। सभनें राज्यें ते केंदर शासित प्रदेशें च योजना दी शुरूआत करी दित्ती गेई ऐ।  इस योजना दे अंतर्गत मुफ्त सेवा प्रदान करने पर जोर दित्ता गेआ ऐ। इस च गर्भवती महिलाएं ते बमार नवजात शिशुएं गी खर्चें थमां मुक्‍त रक्खेआ गेआ ऐ।

इस योजना दे तैह्​त, गर्भवती महिलाएं गी मुफ्त दवाईयां ते अहार, मुफ्त इलाज, जरूरत पौने पर मुफ्त खून दित्ता जाना, सामान्‍य प्रजनन दे मामले च त्रै दिनें तगर ते सी-सेक्‍शन दे मामले च सत्त दिनें तगर मुफ्त अहार दित्ता जंदा ऐ। इस च घर थमां केंदर जाने ते वापसी लेई मुफ्त गड्डी दी सुविधा दित्ती जंदी ऐ। इस्सै चाल्ली दियां सुविधां सब्भै बमार नवजात शिशुएं लेई दित्तियां जंदियां न। इस कार्यक्रम दे तैह्​त ग्रांई ते शैह्‌री खेत्तरें च हर साल अंदाजन क करोड़ थमां मतियें गर्भवती महिलाएं ते नवजात शिशुएं गी योजना दा लाह् मिलेआ ऐ।

इस कार्यक्रम च प्रसुताएं गी थ्होने आह्‌लियां सुविधां

  1. मुफ्त संस्थागत प्रसव - जननी सुरक्षा कार्यक्रम दी शुरूआत एह् जकीनी करने लेई कीती गेई ऐ जे हर गर्भवती महिला ते क म्हीने तगर बमार नवजात शिशुएं गी बिना कुसै लागत ते खर्चे दे सेह्‌त सेवां प्रदान कीतियां जंदियां न।
  2. लोड़ पौने पर मुफ्त सीजेरियन आपरेशन - जननी शिशु सुरक्षा कार्यक्रम दे अंतर्गत सरकारी सेह्‌त केंदरें च मुफ्त प्रजनन सुविधां (सीजेरियन आपरेशन सनें) उपलब्ध करोआइयां जंदियां न।
  3. मुफ्त दवाईयां ते लोड़चदी समग्गरी- गर्भवती महिलाएं गी मुफ्त च दवाईयां दित्तियां जंदियां न इंदे च आयरन फालिक ऐसिड जनेह् सप्‍लीमेंट बी शामल न।
  4. मुफ्त जाच सुविधां – इसदे कन्नै गै गर्भवती महिलाएं गी खून, पेशाब दी जांच, अल्‍ट्रा-सोनोग्राफी बगैरा जरूरी ते लोड़चदी जांच बी मुफ्त कराई जंदी ऐ।
  5. मुफ्त रूट्टी - सेवा केंदरें च सामान्‍य डिलीवरी होने पर त्रै दिन ते सीजेरियन डिलीवरी दे मामले च सत्त दिनें तगर मुफ्त अहार दित्ता जंदा ऐ । जन्‍म थमां 30 दिनें तगर बमार नवजात शिशु लेई दवाईयां ते लोड़चदा अहार मुफ्त उपलब्ध करोआया जंदा ऐ।
  6. मुफ्त खून दी सुविधा- लोड़ पौने पर मुफ्त खून बी दित्ता जंदा ऐ। जननी शिशु सुरक्षा कार्यक्रम दे अंतर्गत ओपीडी फीस ते दाखल होने दे खर्चें दे अलावा होर बी केईं चाल्ली दे खर्चे करने थमां मुक्‍त रक्खेआ गेआ ऐ।
  7. मुफ्त गड्डी दी सुविधा- घर थमां केंदर जाने ते औने लेई बी मुफ्त च गड्डी दी सुविधा दित्ती जंदी ऐ।

जन्म दे 30 दिन तगर नवजात शिशु गी थ्होने आह्‌लियां सुविधां

इस कार्यक्रम दे अंतर्गत केंदर च प्रजनन करोआने कन्नै मां कन्नै-कन्नै शिशु दी बी सुरक्षा कीती जंदी ऐ । जेह्​ड़ी इस चाल्ली ऐ-

  • मुफ्त ईलाज
  • मुफ्त दवाईयां ते लोड़चदी समग्गरी
  • मुफ्त जांच सुविधां
  • मुफ्त खून दी सुविधा- मां दे कन्नै-कन्नै नवजात शिशु दी बी मुफ्त जांच कीती जंदी ऐ ते लोड़ पौने पर मुफ्त खून बी दित्ता जंदा ऐ।
  • मुफ्त रेफरल सुविधां/लोड़चदियां ट्रांसपोर्ट सेवां
  • खर्च च छूट (यूजर चार्जेज), बमार नवजात शिशुएं पर खर्चा घट्ट करना पौंदा ऐ।

जननी शिशु सुरक्षा योजना दियां खासयितां

योजना तैह्​त गर्भवती महिला, जननी ते नवजात शिशु गी लाह् हासल होग। सभनें गी सरकारी चिकित्सा संस्थानें च सेह्‌त सेवां मुफ्त उपलब्ध करोआई जाङन। जिस च संस्थागत प्रसव, सिजेरियन आपरेशन, दवाईयां ते होर समग्गरी, लैब जांच, रूट्टी, ब्लड ते रैफरल ट्रांसपोर्ट पूरी चाल्ली मुफ्त रौह्​ङन। कार्यक्रम शुरू करने दा मुक्ख उद्देश जननी मृत्यु दर ते शिशु मृत्यु दर च कमी आह्​नना ऐ। योजना दे तहत सभनें गर्भवती महिलाएं गी जिला चिकित्सा संस्थानें च प्रसव करोआने पर प्रसव सरबंधी पूरे खर्च दा भार, प्रसव थमां पैह्​ले, प्रसव दरान ते प्रसव दे बाद दवाईयां ते होर खाने-पीने दा समान मुफ्त उपलब्ध करोआए जाङन। जांच बी मुफ्त होग। संस्थागत प्रसव होने पर त्रै दिन ते सिजेरियन आपरेशन होने पर सत्त दिन मुफ्त रूट्टी दित्ती जाह्‌ग।

इस कार्यक्रम दे अंतर्गत थ्होने आह्‌लियां सेह्‌त सेवां इस चाल्ली न-

  • गर्भवती महिलाएं ते बमार नवजात शिशुएं गी बेह्​तर सेह्‌त सुविधां प्रदान कीतियां जाङन।
  • इस योजना दे अंतर्गत बिजन खर्च दी सेवा प्रदान करने पर जोर दित्ता गेआ ऐ। इसदे कन्नै गर्भवती महिलां प्रजनन खर्च दी चैंता थमां बेफिक्र रौह्​ङन।
  • गर्भवती महिलाएं गी मुफ्त दवाईयां ते खाने-पीने दा समान, मुफ्त इलाज, जरूरत पौने पर मुफ्त खून दित्ता जाह्​ग।
  • सामान्‍य प्रजनन दे मामले च त्रै दिनें ते सी-सेक्‍शन दे मामले च सत्त दिनें तगर मुफ्त पौश्टक अहार दित्ता जाह्​ग।
  • इस योजना दे अंतर्गत घर थमां केंदर जाने ते वापसी लेई मुफ्त गड्डी दी सुविधा दित्ती जाह्​ग। इस्सै चाल्ली दियां सुविधां सभनें बमार नवजात शिशुएं लेई दित्तियां जंदियां न।
  • इस कार्यक्रम कन्नै मातृ मृत्‍यु दर (एमएमआर) ते शिशु मृत्‍यु दर काफी हद तगर घट्ट होई ऐ, इस च होर सुधार कीते जाने दी लोड़ ऐ ।
  • ब’रे 2005 च शुरू कीती गेदी जननी सुरक्षा योजना (जेएसवाई) दे बाद संस्‍थागत शिशु जन्‍म च खासी बढ़ोतरी होई ऐ ।

स्रोत: जननी शिशु सेह्‌त योजना

2.95833333333
अपनी राऽ देओ

उप्पर दित्ते गेदे बिशे च जेकर तुंदी कोई प्रतिक्रिया/ राऽ ऐ तां किरपा करियै इत्थे पोस्ट करी लैओ

Enter the word
Back to top