घर / समाजिक भलाई / सामाजिक सुरक्षा / प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा जोजना
सांझा करो
Views
  • राज्य Open for Edit

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा जोजना

इस च प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा जोजना दी जानकारी दित्ती गेई ऐ ।

जोजना दा विवरन

इस बीमा जोजना च हर साल नवीनीकर्निय इस साल दे कवर ते कुसै बी कारन करियै कन्नै मौत होने उप्पर जीवन बीमा कवर दी पेशकश कीती गेई ऐ । एह् जोजना भारतीय जीवन बीमा निगम ( एल आई सी) दे माध्यम कन्नै पेश / प्रशासित कीती जाह्ग ते बाकी होर जीवन बीमा कंपनियां मंजूरी दे बाद बैंक जीआई सालंगन करियै इस चाल्लीं दीयें शर्तें उप्पर उत्पाद प्रदान करि सकदी ऐ । सैह्भागी बैंक इस चाल्लीं दी कुसै होर बी जीवन बीमा कंपनी जीआई संलग्न करियै अपने ग्राहकें आस्तै एह् जोजना लागूकरी सकदे न ।

कवरेज दायरा

सैह्भागी बैंक दे 18 शा 50 साल दी बरेस दे सारे बचत बैंक खाता धारक शामल होने दे हकदार होङन । कुसै बी माह्नू दे इक जां बक्ख-बक्ख बैंक च केईं बचत खाते होन तां ऐसे मामले च , ओह् माह्नू सिर्फ इक बचत खाते दे माध्यम कन्नै इस जोजना च शामल होने आस्तै पात्र होग । बैंक खाते आस्तै अधार कार्ड पैह्ली के . वाई . सी होग ।

नाम निवेश साधन

कवर 1 जून शा 31 मई तकर इस साल आस्तै होग जिस च शामल होने आस्तै नासमत बचत बैंक खाते कन्नै स्वतः नामे आसेआ नामांकन /भुगतान करने आस्तै निर्धारत प्रपत्रों उप्पर हर साल 31 मई तकर शरूआती साल आस्तै उक्त रूप च अपवाद दे कन्नै, विकल्प प्रस्तुत करना जरूरी होग । संभावित कवर आस्तै विलंबित नामांकन पूरे साल प्रीमियम भुगतान कन्नै चंगी सेह्त दा एसवी-प्रमानपत्र देने उप्पर संभव होई सकदा ऐ । इस जोजना शा बाह्र निकालने आह्ले माह्नू कुसै बी सामें , भविक्ख दे ब’रें च , निर्धारत परर्फ़ोमे च चंगी सेह्त दी घोशाना प्रस्तुत करीयै इस जोजना च फ्ही शामल होई सकड़े न । औने आह्ले ब’रें च, पात्र श्रेनी च नमें सदस्य , जां बर्तमान च पात्र माह्नू जेह्ड़े पैह्लू इस जोजना च शामल नेईं होए हे जां उ’नें अपना अंशदान बंद कीता हा । इस जोजना च , जेकर ओह् जारी होऐ तां , चंगी सेह्त दी घोशाना प्रस्तुत करियै शामल होई सकदे न ।

लाऽ

कुसें बी कारन करियै सदस्य दी मौत होने उप्पर रपेऽ दो लक्ख देने होंङन ।

प्रीमियम

रपेऽ 330/- हर सदस्य हर साल , इस जोजना दे तैह्त दित्ते गेदे विकल्प दे अनुसार प्रीमियम इक किश्त च स्वतः नामे सुविधा दे माध्यम कन्नै खाता धारक दे बचत खाते थमां सालाना कवरेज अवधि दी 31 मई जां उस शा पैह्लें कट्टी लैता जाह्ग । 31 मई दे बाद , संभावित कवर आस्तै विलंबित नमांकन पैह्ले सालाना प्रीमियम भुगतान दे कन्नै चंगी सेह्त दा एसवी-प्रमाण पत्र देने उप्पर संभव होई सकदा ऐ । सालाना दावा अनुभव दे आधार उप्पर प्रीमियम दी समीक्षा कीती जाह्ग । कुदरती आफत परिनामें दे लावा एह् प्रयास कीता जाह्ग जे पैह्ले त्र’ऊं ब’रे च प्रीमियम गी बधाया नेई जा ।

पात्रता दियां शर्तां –

(क) सैह्भागी बैंकें दे बचत बैंक खाता धारक , जिंदी बरेस 18 साल (पूरे) शा 50 साल दे बिच्च ऐ ते जेह्ड़े उक्त साधन दे रूप च जोजना च शामल होने आस्तै / स्वतः नामे लेई सैह्मति देऐ , उ’नेईं इस जोजना च शामल कीता जाई सकदा ऐ ।

(ख) जेह्ड़ा माह्नू शरूआती नामांकन दी अवधि दे बाद, 31 अगस्त 2015 जां 30 नवंबर 2015 तकर दी विस्तारित अवधि तकर , ज्नेहा बी मामला होऐ , जोजना च शामल होऐ करदे न उ’नेईं इक आत्म-प्रमानीकरन देना जरूरी होग जे हुंदी सेह्त ठीक ऐ ते ओह् कुसै बी गंभीर बमारीयें जि’यां के नामांकन दे बेलै सैह्मति घोशाना पत्र च उल्लेख कीता गेआ ऐ , कन्नै ग्रस्त नेईं न ।

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा जोजना दियां मुक्ख गल्लां –

1

प्रीमियम राशि

330 रपेऽ हर साल

2

कवरेज नियम

मौत कवरेज (एक्सीडेंटल /समान्य )

3

बरेस सीमा

18 साल शा 50 साल

4

कवरेज अवधि

50 साल तकर

आश्वासम दी समाप्ति

सदस्य दे जीवन उप्पर आश्वासन हेठ लिखी घटनाएं चा कुसै बी इक घटना घटने उप्पर खत्म होग ते उस स्थिति च कोई बी लाऽ नेईं होग :

  • 55 साल दी बरेस (जनम दिन दे नजदीकी बरेस ) होने उप्पर बशर्त एह् जे उस तरीक (प्रवेश , हांलांके, 50 साल दी बरेस दे परे संभव नेईं होग ) तकर सालाना नवीनीकरन होऐ ।
  • बैंक दे कन्नै खाता बंद होने उप्पर जां बीमा कवर चालू रखने आस्तै पर्याप्त राशि नेईं होने उप्पर।
  • जेकर सदस्य एल आई सी / कोई होर कंपनी कन्नै इक शा मते खाते दे माध्यम कन्नै कवर कीता गेआ ऐ ते एल आई सी / होर कंपनी आसेआ अनजाने च प्रीमियम हासल होंदा ऐ तां उस स्थिति च बीमा कवर रपेऽ दो लक्ख आस्तै प्रतिबंध होई जाह्ग ते प्रीमियम जब्त होने आस्तै उत्तरदायी होग ।
  • जेकर बीमा कवर देय तरीक उप्पर कुसै तकनीकी कारन करीयै ( जि’यां पूरी राशि नेईं होना जां कुसै प्रशासनिक मुद्धे दी बजह् करियै ) बंद होई जंदा ऐ तां ओह् पूरे साल प्रीमियम ते चंगी सेह्त दी इक संतोखजनक ब्यान देने उप्पर फ्ही परतियै बहाल कीता जाई सकड़ा ऐ ।
  • सैह्भागी बैंक नियमित नामांकन दे मामले च हर साल 30 जून जां एह्दे पैह्ले, ते होर बाकी मामलें च हासल कीते म्हीने च प्रीमियम प्रेवर्त करग ।

स्त्रोत : पोर्टल विशे समग्री टीम

2.57142857143
अपनी राऽ देओ

उप्पर दित्ते गेदे बिशे च जेकर तुंदी कोई प्रतिक्रिया/ राऽ ऐ तां किरपा करियै इत्थे पोस्ट करी लैओ

Enter the word
Back to top