অসমীয়া   বাংলা   बोड़ो   डोगरी   ગુજરાતી   ಕನ್ನಡ   كأشُر   कोंकणी   संथाली   মনিপুরি   नेपाली   ଓରିୟା   ਪੰਜਾਬੀ   संस्कृत   தமிழ்  తెలుగు   ردو

फौरी रकम ट्रांसफर प्रणाली- यूपीआई

फौरी रकम ट्रांसफर प्रणाली- यूपीआई

एकीकृत भुगतान इंटरफेस (यूपीआई) एक प्रणाली ऐ जेह्​ड़ी बक्ख-बक्ख बैंक (भागीदार कुसै बी बैंक दे) खातें गी इक्कै मोबाइल ऐपलीकेशन कन्नै जोड़दी ऐ, केईं बैंकिग खासियतें गी मलांदी ऐ ते बिना कुसै परेशानी दे फंड रूटिंग ते इक हुड च बपारी भुगतान दी स्हूलत प्रदान करदी ऐ।एह् “समकक्ष शा समकक्ष” आवेदन हासल दी लोड़ पूरी बी करदी ऐ जिसी निर्धारत कीता जाई सकदा ऐ ते लोड़ ते स्हूलत दे अधार पर जिसदा भुगतान कीता जाई सकदा ऐ।

नेशनल पेंमेंट कार्प्रोरेशन आफ इंडिया (NPCI) देशै च सब्भै खुदरा भुगतान प्रणाली करने आह्​ली इक कठरेमीं संस्था ने बेह्​तर आनलाइन भुगतान दे समाधान लेई इक एकीकृत भुगतान इंटरफेस(UPI) दी शुरूआत कीती ऐ जेह्​ड़ी बधदे स्मार्टफोन दी बरतून ते मोबाइल डाटा दा लाह् लैंदे होई इस बक्खी लोकें दे झुकाऽ गी बधाग।

यूपीआई दी बलक्खनता

एह् खास कि’यां ऐ?

  • इसदे राहें मोबाइल डिवाइस कन्नै चौबी घैंटे 24 * 7 ते 365 दिन रकम गी फौरी ट्रांसफऱ कीता जाई सकदा ऐ।
  • इक मोबाइल ऐप दे स्हारे बक्ख-बक्ख बैंक खातें तगर पुज्जेआ जाई सकदा ऐ I
  • वैधता प्रमाणीकरण लेई इक क्लिक - नियामक दिशा निर्देशें कन्नै गठबंधन दे कारण सिंगल क्लिक दी सैह्​ज भुगतान सुविधा गी मजबूती प्रदान करदा ऐ।
  • भुगतान करदे बेल्लै तुसेंगी इंटरनेट बैंकिंग लाग-इन करने दी ते OTP कोड हासल करने दी जरूरत नेईं होग ।
  • एह् ऐप थुआढ़े शा कोई नंबर नेईं मंङग ते कुसै किस्म दा कार्ड नंबर, अकाउंट नंबर, आईएफएससी बगैरा इस च नेईं देना होग ।
  • दोस्तें कन्नै बिल सांझा कीता जाई सकदा ऐ ।
  • एह् ऐप कैश भुगतान च परेशानी, एटीएम जाइयै रकम कड्ढने बगैरा दा स्हेई हल ऐ।
  • सिंगल ऐप राहें बपारी इक्कै बेल्लै भुगतान करी सकङन ।
  • बक्ख-बक्ख प्रयोजनें लेई दोनें बक्खी दा (पुश ते पुल पेमेंट) भुगतान निर्धारण मुमकन होई पाग।
  • बरतूनता प्रमाण पत्र अधारत भुगतान, काउंटर भुगतान, बारकोड (स्कैन ते भुगतान) अधारत भुगतान होग।
  • दान, ग्राही करना, भुगतान गी गिनेआ जाई सकग।
  • ऐप दे स्हारे प्रतक्ख रूप च शिकायत कीती जाई सकदी ऐ।

यूपीआई च भ्याल

  • पीएसपी भुगतानकर्ता
  • पीएसपी हासलकर्ता
  • भेजने आह्​ला बैंक
  • लाभार्थी बैंक
  • नेशनल पेमेंट कार्पोरेशन आफ इंडिया(एनपीसीआई)
  • बैंक खाताधारक
  • बपारी

परिस्थितिकी प्रतिभागियें गी लाह्

बैंकें लेई लाह्

  1. सिंगल क्लिक च दो कारकी प्रमाणीकरण
  2. लैनदेन लेई सर्व-व्यापक ऐपलीकेशन
  3. मौजूदा बुनियादी ढांचे दी बरतून
  4. सुरक्षत, भरोसेमंद ते उन्नत
  5. भुगतान अधार इक्कले/खास पंछानकर्ता
  6. सैह्​ज बपारी लैनदेन लेई सक्षम

अत ग्राहकें लेई लाह्

  1. 24 घैंटे दी उपलब्धता
  2. सिंगल ऐप बक्ख-बक्ख बैंक खातें तगर पौंह्​च बनाने लेई
  3. आभासी आई-डी दी बरतून मती सुरक्षत, कागजें दी कुतै सांझ नेईं
  4. सिंगल क्लिक प्रमाणीकरण
  5. मोबाइल ऐपलीकेशन थमां शिकायत आपूं करी सकङन

बपारियें गी लाह्

  1. ग्राहकें थमां एकल पंछानकर्ता राहें सैह्​ज निधि सैंग्रह्
  2. कार्डें आंह्​​गर ग्राहक दे आभासी पते स्टोर करने पर कोई खतरा नेईं
  3. क्रेडिट/डैबिट कार्ड नेईं होने आह्​लें ग्राहकें तगर पौंह्​च
  4. ई-काम ते एम-काम लैनदेन लेई मनासब
  5. COD समस्या दा समाधान
  6. ग्राहकें गी सिंगल क्लिक 2FA स्हूलत-बिना केई परेशानी पुल
  7. इन-ऐप पेमेंट(आई ऐ पी)

यूपीआई समर्थ ऐपलीकेशन च पंजीकरण

फंजीकरण दी प्रक्रिया

  • बरतूनी यूपीआई एप्लीकेशन ऐप स्टोर/बैंक दी बेवसाइट थमां डोउनलोड करन।
  • बरतूनी अपना नांऽ, आभासी पता, (भुगतान पता), पासवर्ड बगैरा ब्यौरे दर्ज करियै अपना प्रोफाइल बनान।
  • बरतूनी विकल्प “जोड़ो/लिंक/बैंक अकाउंट प्रबंध करो” विकल्प पर जान ते बैंक ते खाता संख्या आभासी पते कन्नै लिंक करन ।

M–PIN बनाना

  • बरतूनी बैंक खाते दा चुनांऽ करन जिस थमां ओह् अपना लैनदेन शुरू करना चांह्​दे न।
  • बरतूनी कुसै इक विकल्प पर क्लिक करन।

अ. मोबाइल बैंकिंग पंजीकरण/ MPIN बनाना

ब. M-PIN बदलना

3(अ) दी सूरत च-
  • बरतूनी जारीकर्ता बैंक थमां अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर OTP हासल करदा ऐ।
  • बरतूनी हून अपने डेबिट कार्ड दे खीरी 6 अंक ते म्याद खत्म होने दी तरीक दाखल करदा ऐ।
  • बरतूनी OTP दाखल करदा ऐ ते अपनी पसंद दा संख्यात्मक MPIN दाखल करै (MPIN जेह्​ड़ा ओह् रक्खना चांह्​दा ऐ) ते फ्ही दर्ज करो पर क्लिक करै
  • दर्ज करो पर क्लिक करने दे बाद ग्राहक गी सूचना मिलग (सफल जां असफल)

2(ब) दी सूरत च-

  • अ. बरतूनी अपना पराना MPIN दाखल करै ते नमां MPIN चुनै (MPIN जेह्​ड़ा ओह् रक्खना चांह्​दा ऐ) ते दर्ज करो पर क्लिक करै।
  • ब. दर्ज करो पर क्लिक करने दे बाद ग्राहक गी सूचना मिलग (सफल जां असफल)

यूपीआई राहें लैनदेन करना

अ. पुश- रकम भेजना आभासी पते दी बरतून करियै
  1. बरतूनकर्ता यूपीआई ऐपलीकेशन पर लागइन करङन।
  2. सफल लाग इन दे बाद, बरतूनी रकम भेजने/भुगतान करने दा विकल्प चुनन।
  3. बरतूनी हासलकर्ता/भुगतानकर्ता दा आभासी पता ते जिस खाते चा रकम कड्ढनी ऐ दा ब्यौरा दर्ज करन।
  4. बरतूनी भुगतान ब्यौरा जानकारी स्क्रीन पर हासल करग ते तस्दीक पर क्लिक करग।
  5. बरतूनी हून MPIN दाखल करग।
  6. बरतूनी लैनदेन सफल होआ जां असफल होआ दा सनेहा हासल करग।
ब- पुल – रकम लेई आवेदन
  1. बरतूनी अपने बैंक दे यूपीआई ऐपलीकेशन पर लाग इन करग।
  2. सफल लाग इन दे बाद, बरतूनी रकम हासल करने दा विकल्प चुनग (भुगतान लेई आवेदन)।
  3. बरतूनी भेजने आहले/अदा करने आहले दा आभासी पता, रकम ते जमा कीते जाने आहले खाते दा ब्यौरा दर्ज करग।
  4. बरतूनी भुगतान ब्यौरा स्क्रीन पर हासल करग ते तस्दीक पर क्लिक करग।
  5. भुगतानकर्ता गी रकम आवेदन लेई अपने मोबाइल नंबर पर पर सूचना हासल होग।
  6. भुगतानकर्ता हून सूचना पर क्लिक करग ते अपने बैंक दा यूपीआई ऐप खोल्लग जित्थै ओह् भुगतान आवेदन दी समीक्षा करी सकदा ऐ।
  7. भुगतानकर्ता फ्ही निरणा करग जे उसी मंजूर पर क्लिक करना ऐ जां नां-मंजूर पर।
  8. मंजूर करने दी सूरत च भुगतानकर्ता गी लैनदेन अधिकृत करने लेई MPIN दाखल करना होग।
  9. लैनदेन पूरा होआ, भुगतानकर्ता गी सफल जां असफल लैनदेन दी सूचना हासल होग।
  10. हासलकर्ता /निवेदक गी खाते च जमा रकम लेई बैंक थमां सूचना ते SMS हासल होग।

स्त्रोत: नेशनल पेमेंट कार्पोरेशन आफ इंडिया



© 2006–2019 C–DAC.All content appearing on the vikaspedia portal is through collaborative effort of vikaspedia and its partners.We encourage you to use and share the content in a respectful and fair manner. Please leave all source links intact and adhere to applicable copyright and intellectual property guidelines and laws.
English to Hindi Transliterate